2.4 Advertisement – ASIAN PAINTS

हर घर चुपचाप से यह कहता है कि अंदर इसमें कौन रहता है।

छत बताती है यह किसका आसमान है

रंग कहते है कि किसका यह जहान है

कमरों में किसकी कल्पना झलकती है

इस फ़र्श पर नंगे पैर किसके बच्चे चलते है

कौन चुन चुन के इसे प्यार से सजाता है

कौन इस मकान में अपना घर बसाता है

हर घर चुपचाप से यह कहता है कि अंदर इसमें कौन रहता है

एशियन पेंट्स – क्योंकि हर घर कुछ कहता है

Glossary

चुपचाप से adv. quietly
छत n.f. roof; ceiling
आसमान n.m. sky
जहाँ/ जहान n.m. world
कल्पना n.f. imagination
झलकना v.i. to show up faintly, to be reflected
फ़र्श n.m. floor
चुनना v.t. to choose
चुन चुन के adv. selecting carefully
सजाना v.t. to decorate
बसाना v.t. to settle

(4.1) Fill in the blanks with the correct verb forms in the present/past tense. A verb list is given below.

(सजाना, बसाना, चलना, कह देना, झलकना, रहना)

  1. इस कमरे में रंजन (m.) …… ।
  2. इन चित्रों पर चित्रकार की कल्पना साफ़ …… ।
  3. सर्दियों में तो सब लोग बर्फ़ पर …… ।
  4. आज तो दिवाली है, चलो हम घर …… ।
  5. उनकी नौकरी दिल्ली में लग गई थी, तो उन्होंने वहीं घर …… ।
  6. उसकी कविताओं में वह अपने सपने …… ।

Small group activity (3-4 students)

Create an advertisement of your choice and perform it in front of the whole class.

Examples:

 

 

 

 

 

 

License

Icon for the Creative Commons Attribution-NonCommercial 4.0 International License

Hindi-Urdu by Sungok Hong, Sunil Kumar Bhatt, Rajiv Ranjan, and Lakhan Gusain is licensed under a Creative Commons Attribution-NonCommercial 4.0 International License, except where otherwise noted.